Tik Tok भारत में बैन होने के बाद फेसबुक पूरी कोशिश कर रहा है कि इस गैप को फिल किया जाए. टिक टॉक बैन होने के कुछ समय बाद ही टिक टॉक जैसा ही वीडियो फीचर कंपनी ने इंस्टाग्राम पर Reels के नाम से लॉन्च कर दिया.

वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ फ़ेसबुक उन टिक टॉक यूज़र्स को Reels पर आने के लिए पैसे ऑफर कर रहा है जिनके टिक टॉक फॉलोअर्स काफी ज्यादा थे.

रिपोर्ट के मुताबिक फ़ेसबुक ने बड़े टिक टॉक क्रिएटर्स से इंस्टाग्राम Reels पर एक्स्क्लूसिव कॉन्टेंट किएट करके पोस्ट करने का ऑफर दिया है.

बताया जा रहा है कि फ़ेसबुक ने इन क्रिएटर्स को लाखों रुपये देने का ऑफ़र दिया है. फेसबुक के प्रवक्ता ने फ़ोर्ब्स से बताया है, ‘इमर्जिंग क्रिएटर्स को रीच आउट करने का हमारा लंबा इतिहास रहा है और इनके साथ हम मिल कर काम करते हैं.’

भारत में टिक टॉक तो बैन हो चुका है, लेकिन अब अमेरिका में भी ये ऐप बैन किया जा सकता है. इतना ही नहीं टिक टॉक की पेरेंट कंपनी बाइट डांस में अमेरिकी इन्वेस्टर्स के काफ़ी स्टेक्स हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक़ अमेरिकी शेयरहोल्डर्स बाइट डांस से ये ऐप ख़रीदने की भी तैयारी कर रहे हैं. चूंकि बाइट डांस ने कुछ समय पहले ये साफ़ कर दिया है कि ऐप के बेहतर भविष्य के लिए इसे बेचने के बारे में भी कंपनी सोच सकती है.