भोपाल ।  कोरोना संक्रमण के चलते तीन माह से बसों का परिवहन बंद होने के बाद 1 जुलाई से बसें शुरू होने की उम्मीद थी, लेकिन अब चालक, परिचालक संघ ने अपनी मांगों को लेकर प्रदेशभर में हड़ताल करने की घोषणा की है। प्रदेशभर के चालक, परिचालक 1 जुलाई से हड़ताल पर जाने वाले हैं। उनका कहना है कि 7 जुलाई तक मांगों का निराकरण नहीं होने पर आगे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू होगी।सारथी चालक, परिचालक मजदूर यूनियन ने 4 मांगों का ज्ञापन पत्र दिया। संगठन के मिलिंद चौधरी ने बताया कि कोरोना संकट के चलते चालक, परिचालकों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा है। पूर्व में भी प्रशासन को आर्थिक सहायता के लिए अवगत कराया गया। संघ यह मांग करता है कि बसों के चालक और परिचालकों को 3 माह का वेतन 7500 रुपए प्रतिमाह की दर से मुख्यमंत्री राहत कोष, श्रम विभाग मंत्रालय, परिवाहन मंत्रालय से दिलाया जाए। केंद्र सरकार से जारी सहायता राशि भी चालक और परिचालकों को मिले। गरीबी रेखा, संबल योजना, बीमारी सहायता योजना में पंजीयन कराया जाए और 17 फरवरी 2014 केा मुख्यमंत्री द्वारा महापंचायत में की गई चालक, परिचालक आयोग के गठन एवं 10 करोड रुपए वर्षिक फंड देने की घोषणा पर अमल किया जाए। प्रदेशभर में चालक, परिचालक यूनियन 1 से 7 जुलाई तक हड़ताल कर आंदोलन कर रहे है।

कुछ समय और थमें रहेंगे बसों के पहिए
देश में अनलॉक होने के बाद अब तक बसों का परिवहन शुरू नहीं हुआ। संभावित 1 जुलाई से बसों का परिवहन शुरू हो सकता था, लेकिन अब 7 जुलाई तक चालक और परिचालकों की हड़ताल होने से बसों के पहिए कुछ दिनों तक और थमें रहेंगे। बस परिवहन शुरू नहीं होने के कारण ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के लोग आवागमन नहीं कर पा रहे है।

प्रदेश में ट्रकों का तिमाही टैक्स माफ
प्रदेश सरकार ने कोरोना लॉकडाउन से पीडि़त ट्रांसपोर्टरों को राहत देकर ट्रकों का तिमाही टैक्स माफ करने का निर्णय लिया है। मप्र कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नरिंदर पांधे ने यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि ट्रांसपोर्ट कमिश्नर मधु कुमार से फोन पर चर्चा हुई। ट्रांसपोर्टरों के पक्ष में ट्रकों के त्रिमासिक टैक्स व उसपर लगने वाली पेनाल्टी को लेकर चिंता जताई। जवाब में ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ने सरकार के निर्णय की जानकारी दी। जबकि कांग्रेस परिवहन प्रकोष्ठ के 52 जिला अध्यक्षों ने एक सप्ताह पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र भेजकर ट्रकों का टैक्स माफ करने की अपील की थी।