राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने गरीबों को वितरण के लिये राजभवन में बनाये जा रहे भोजन की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने आज सुबह राजभवन के रसोई घर में भोजन पैकेट में रखी जाने वाली खाद्य सामग्री की जानकारी ली। उन्होंने भोजन निर्माण में स्वच्छता और शुद्धता की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। साथ ही, रसोई घर और पैकिंग व्यवस्थाओं की शुद्धता, स्वच्छता और सेनेटाइजेशन की व्यवस्थाएँ देखी। राज्यपाल ने भोजन को चखकर उसकी गुणवत्ता भी जानी।

राज्यपाल श्री टंडन ने भोजन निर्माण कार्य में लगे कर्मचारियों को स्वच्छता के नियमों का कड़ा पालन करने और शुद्ध एवं स्वादिष्ट भोजन बनाने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि कोरोना से संघर्ष के इस दौर में हम सबका यह दायित्व है कि कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहे। उन्होंने कहा कि राजभवन द्वारा भोजन वितरण व्यवस्था सांकेतिक पहल है ता‍कि समाज के समर्थ व्यक्ति इससे प्रेरणा लेकर गरीब, वंचित और जरूरतमंद व्यक्ति के सहयोग और मदद का दायित्व स्वीकार करें।

राज्यपाल ने राजभवन कर्मियों से कहा कि संकटकाल में आपकी सेवा वास्तव में राष्ट्र की सेवा है। उन्होंने कहा कि भोजन तैयार करने की आकस्मिक व्यवस्थाओं की तैयारी रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर राजभवन प्रशासन को तत्काल और अधिक भोजन के पैकेट उपलब्ध करा सके।