भोपाल : किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि सरकार ग्रामीण पथ विक्रेताओं को भी हरसंभव मुहैया कर रही है, जिससे कि उन्हें व्यवसाय में सहुलियत मिल सके। मंत्री श्री पटेल जिला पंचायत हरदा के सभाकक्ष में आयोजित मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना अन्तर्गत ऋण वितरण प्रमाण-पत्र कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में उन्होंने 279 हितग्राहियों को 27 लाख 90 हजार रूपये के ऋण प्रमाण-पत्र वितरित किये। कार्यक्रम में जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री मनीष निशोद, जनपद अध्यक्ष श्रीमति फून्दाबाई एवं अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।

मंत्री श्री पटेल ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में छोटी पूंजी के व्यावसायियों पर विपरित प्रभाव पड़ा है। ग्रामीण पथ विक्रेताओं को आवश्यक मदद मुहैया कराने के लिये प्रदेश सरकार द्वारा प्रत्येक हितग्राही को 10-10 हजार रूपये की राशि ब्याज मुक्त ऋण के रूप में उपलब्ध करा रही है। इससे उन्हें और उनके परिवार को आवश्यक संबल मिलेगा साथ ही स्वरोजगार को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार 'सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास' के मूल मंत्र के साथ समाज के हर वर्ग को सक्षम एवं समर्थ बनाने के लिये कार्य कर रही है। मंत्री श्री पटेल ने बताया कि योजना के अन्तर्गत हरदा जिले में 5,304 हितग्राहियों ने पंजीयन कराया है। पात्रता अनुसार योजना का लाभ सभी को मिलेगा।

मंत्री श्री पटेल ने हितग्राहियों से की चर्चा

कार्यक्रम में मंत्री श्री पटेल ने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना के हितग्राहियों से चर्चा की। ग्राम महेन्द्रगांव के हितग्राही महेन्द्र बघेल, ग्राम बालागांव के हितग्राही संतोष दारसे, ग्राम मगरधा के हितग्राही बहीद खां, ग्राम नकवाड़ा के हितग्राही भागवत एवं दुर्गा शर्मा ने कोरोना काल के दौरान उनके व्यवसाय पर पड़े विपरित प्रभाव के बारे में बताया, साथ ही उन्होंने ग्रामीण पथ विक्रेता योजना से प्राप्त होने वाली राशि को अपनी आजीविका के लिए संजीवनी बताया। मंत्री श्री पटेल ने हितग्राहियों को विश्वास दिलाया कि सभी को आवश्यक सहायता दी जाएगी।