ग्वालियर में उपचुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ता आमने-सामने गए हैं। बुधवार को शाम विवाद सड़क पर पहुंच गया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ग्वालियर दौरे को लेकर कांग्रेस ने ग्वालियर में पोस्टर लगाए हैं, इस पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनके पोस्टर हटाकर अपने पोस्टर लगा दिए। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच विवाद बढ़ गया। इसी दौरान मांझी समाज के कार्यक्रम में आए ऊर्जा मंत्री और सिंधिया समर्थक प्रद्युम्न सिंह तोमर को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी झंडे के साथ घेर लिया। इस पर मंत्री ने झंडा छीनने की कोशिश की और फिर कार्यकर्ता और मंत्री के बीच धक्कामुक्की होने लगी। पुलिस ने मामले में बीच बचाव कराया, इस दौरान कांग्रेस और भाजपा के और कार्यकर्ता पहुंच गए और जमकर हंगामा हुआ।

जानकारी के मुताबिक, कमलनाथ के दौरे को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वागत में पोस्टर लगाए हैं। इस पर भाजपा ने भी अपने पोस्टर लगा दिए हैं। जिसे लेकर विवाद हो गया और सड़क पर मंत्री और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। वह एक कार्यकर्ता से धक्का मुक्की करने लगे। अब कांग्रेस कार्यकर्ता एसपी ऑफिस पहुंच गए हैं और मंत्री के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने पर अड़े हुए हैं। दूसरी तरफ, पूर्व मंत्री लाखन सिंह समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए हैं। उन्होंने कहा कि अगर हमारे पोस्टर हटाए गए तो भाजपा की ईंट से ईंट बजा देंगे।