प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर की आधारशिला रखी. मंत्रोच्चार के बीच भूमिपूजन का कार्यक्रम संपन्न हुआ, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यजमान रहे. उनके साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मौजूद रहे.

पीएम नरेंद्र मोदी के आधारशिला रखने के बाद पूजन संकल्प के दौरान पुरोहित ने कहा, 'किसी भी यज्ञ में दक्षिणा महत्वपूर्ण होती है. दक्षिणा तो आज इतनी दे दी गई कि आज अरबों आशीर्वाद प्राप्त हो रहे हैं. भारत तो हमारा ही है, उससे उपर और कुछ दें. कुछ समस्याएं हैं, उन समस्याओं को दूर करने का संकल्प तो लिए हुए हैं, 5 अगस्त में कुछ और जुड़ जाए तो भगवान की कृपा होगी.'

कोरोना संकट के कारण यजमान यानी पीएम नरेंद्र मोदी और पूजा करा रहे पंडितों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा गया. इसके साथ ही अन्य अतिथि भी सामान दूरी बनाकर बैठे. श्रीराम जन्मभूमि परिसर में पूजा से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने रामलला का दर्शन किया. इस दौरान पीएम मोदी ने साष्टांग होकर रामलला से आशीर्वाद लिया.

खास बात है कि भूमिपूजन उस जगह पर किया जा गया, जहां रामलला विराजमान थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नौ शिलाओं को रखकर राम जन्मभूमि मंदिर की आधारशिला रखी. इस ऐतिहासिक पल के गवाह 175 साधु-संत बने. कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा गया.

रामलला के सामने साष्टांग दंडवत हुए मोदी, देखें-अयोध्या में भूमिपूजन की तस्वीरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करीब 11 बजे हेलिकॉप्टर के जरिए अयोध्या के साकेत कॉलेज में पहुंचे. इसके बाद उनका काफिला सीधे हनुमानगढ़ी में पहुंचा. पीएम नरेंद्र मोदी ने भगवान हनुमान का दर्शन किया और आशीर्वाद लिया. इस दौरान पीएम मोदी को पगड़ी और मुकुट पहनाया गया.