जुगुल मिश्रा, 9425471387
अटल संदेश
शहड़ोल।

जिले में भ्रष्टाचार के लिए चर्चित जनपद पंचायत बुढार के प्रांगण में आज दोपहर अचानक आग लग गई , आग किसी दुर्घटनावश लगी या किसी ने यह आग जानबूझकर लगाई अभी कारण स्पष्ट नहीं हुए हैं।

दोपहर को कुछ राहगीरों ने वहां आग की लपटें देखीं तो राहगीरों और स्थानीय दुकानदारों की सहायता से आग पर काबू पाया गया। 


ज्ञात हो कि अभी कुछ दिन पूर्व ही इसी जनपद में पदस्थ अतरिक्त कार्यक्रम अधिकारी (मनरेगा) मनोज मिश्रा और ग्राम पंचायत भमला के पूर्व सचिव विवेक तिवारी के भ्रष्टाचार की शिकायत ग्रामीणों ने उच्च अधिकारियों के समक्ष की थी , शिकायत की जांच एवं जांच प्रतिवेदन के पश्चात जिला पंचायत सीईओ पार्थ जायसवाल द्वारा दोनों कर्मचारियों को दोषी मानते हुए सीईओ जनपद पंचायत बुढार को उक्त दोनों कर्मचारियों के खिलाफ थाने में एफआईआर कराने के आदेश दिए गए थे , लेकिन तीन दिनों पहले जारी आदेश पर अब तक जनपद पंचायत के सीईओ द्वारा संज्ञान नहीं लिया गया और कर्मचारियों के खिलाफ  एफआईआर दर्ज कराई जा सकी है। वहीं जनचर्चा है कि दोनों दोषी कर्मचारी इसी कार्यालय में पदस्थ थे कहीं इस आग के तार इन दोषी कर्मचारियों और दस्तावेजों से जुड़े हुए नहीं हैं।