भोपाल. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण मध्य प्रदेशमें स्थगित की गईं 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं की नई तारीखों का ऐलान 14 अप्रैल के बाद होने की संभावना है. बोर्ड इस तैयारी में है कि अगर सब ठीक रहा तो बचे हुए पेपर्स अप्रैल में ही करा लिए जाएं, ताकि रिजल्ट भी समय पर डिक्लेयर किया जा सके.

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए एमपी में भी बोर्ड सहित सभी परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. छात्र-छात्राओं को अब नई तारीखों के ऐलान का इंतजार है. उम्मीद जताई जा रही है कि 14 अप्रैल के बाद एमपी बोर्ड नई तारीखों का ऐलान करेगा और 10वीं और 12वीं के बचे हुए पेपर अप्रैल के महीने में ही पूरे करा लिए जाएंगे.

10 वीं बोर्ड में बाकी हैं ये पेपर

10वीं की बोर्ड परीक्षा में 19 मार्च तक ही पेपर हो पाए थे. जनता कर्फ्यू और बाद में 21 दिन के लॉकडाउन के ऐलान के बाद परीक्षाएं स्थगित कर दी गयी थीं. दसवीं कक्षा में विशिष्ट हिंदी, संस्कृत, उर्दू, इंग्लिश के साथ ही तृतीय भाषा हिंदी का पेपर होना बाकी है.

12वीं बोर्ड की परीक्षाएं

एमपी की 12वीं बोर्ड की 21 मार्च से परीक्षाएं स्थगित हैं. बचे हुए पेपर अब नई तारीखों में होंगे. बायलॉजी, इकोनॉमिक्स, बायो- टेक्नोलॉजी, हायर मैथमेटिक्स, पॉलिटिकल साइंस, एनिमल हसबेंडरी मिल्क रेट पोल्ट्री फार्मिंग एंड फिशरीज, एलिमेंट ऑफ साइंस, हिस्ट्री ऑफ इंडियन आर्ट, बिजनेस इकोनॉमिक्स, वोकेशनल कोर्स, फिजिकल एजुकेशन, ज्योग्राफी, केमिस्ट्री, क्रॉप प्रोडक्शन एंड हॉर्टिकल्चर, स्टील लाइफ एंड डिजाइन, शरीर क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, तृतीय प्रश्नपत्र वोकेशनल कोर्स, नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क के साथ समस्त विषय, बुककीपिंग एंड अकाउंटेंसी के पेपर स्थगित किए गए हैं. इन पेपर्स के लिए नई तारीखों का ऐलान होना बाकी है.

अप्रैल महीने में ही पूरे होंगे बाकी पेपर

एमपी बोर्ड के मुताबिक, लॉकडाउन के खत्म होने के बाद नई तारीखों की घोषणा की जाएगी. बोर्ड उम्मीद जता रहा है कि अगर सब ठीक रहा और लॉकडाउन खत्म हुआ तो अप्रैल महीने में ही 10वीं और 12वीं के बचे हुए सारे पेपर कराने की तैयारी की जा रही है, ताकि रिजल्ट भी जल्द आ सके और बच्चे नये सेशन और आगे के करियर के लिए समय से आगे बढ़ सकें.

मई महीने में रिजल्ट घोषित कराने की तैयारी

यूं तो हर साल एमपी बोर्ड का 10वीं और 12वीं का रिजल्ट मई के दूसरे हफ्ते में ही आ जाता है. लेकिन, इस बार लॉकडाउन के कारण परीक्षाएं स्थगित करनी पड़ी हैं.ऐसे में बोर्ड अप्रैल के आखिर तक स्थगित हुए सारे पेपर कराने की तैयारी कर रहा है, ताकि रिजल्ट जल्द आ जाए. और आगे का शैक्षणिक कैलेंडर न बिगड़े.