इस समय देश संकट के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में पुलिस जवान सड़कों पर तो ड्यूटी कर ही रहे हैं, साथ ही साथ इंसानियत का धर्म भी निभा रहे हैं। ऐसी ही इंसानियत की मिशाल पेश की है दुर्ग जिले के उतई थाने में पदस्थ जवान मुकेश गजभिये ने। जब से लॉक डाउन हुआ है तभी से मुकेश ड्यूटी में तैनात जवानों के लिए घर पर खाना तैयार कराकर बांट रहे हैं। इस नेक काम में मुकेश की पत्नी श्रीमती सोनिया भी  साथ दे रहीं हैं। वे खुद जरूरतमंदों के लिए खाना बना रही हैं। मुकेश अपने वाहन से ही खाना और पानी पुलिस जवानों और जरूरतमंदों को वितरित कर रहे हैं।

डीजीपी श्री डीएम अवस्थी को जब गजभिये दंपती द्वारा किये जा रहे नेक कार्य के बारे में पता चला तो उन्होंने तुरंत वीडियो कॉल से बात की। श्री अवस्थी ने मुकेश और उनकी पत्नी की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि व्हाट्सएप के जरिये मुझे आपके सेवाभाव की जानकारी मिली। आपके द्वारा किये जा रहे कार्य पर मुझे गर्व है। छत्तीसगढ़ पुलिस के जवान इस समय दोहरी भूमिका निभा रहे हैं। एक तरफ वे लॉकडाउन का पालन कराने दिन रात सड़कों पर तैनात हैं, वहीं दूसरी तरफ आपकी तरह जरूरतमंदों की मदद भी कर रहे हैं। श्री अवस्थी ने उत्साहवर्धन हेतु तत्काल आरक्षक श्री मुकेश गजभिये को 25 सौ रुपये के नगद इनाम से पुरस्कृत करने की घोषणा की।