मुंबई । रक्षाबंधन के त्‍योहार पर लोगों ने चीन में बनी राखियों का बहिष्‍कार किया। इससे चीन को हजारों करोड़ रुपए के कारोबार का नुकसान हुआ। अब एक बार फिर कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के नेतृत्‍व में 9 अगस्त को देशभर के व्यापारी संगठन चीन के खिलाफ नया आंदोलन 'चीन भारत छोड़ो' शुरू करने वाले हैं। यह आंदोलन चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के कैट के राष्ट्रीय अभियान 'भारतीय सामान-हमारा अभिमान' का हिस्सा है। कैट के मुताबिक 9 अगस्त को सभी राज्यों के 600 शहरों में सामाजिक दूरी और सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए व्यापारी विरोध प्रदर्शन करेंगे। इस अभियान के तहत केंद्र सरकार से भारत में 5जी नेटवर्क लागू करने में चीनी कंपनी हुवावे को प्रतिबंधित करने की मांग की जाएगी। साथ ही देश की स्टार्टअप कंपनियों में चीनी निवेश को लौटाने की मांग भी की जाएगी। सरकार से मांग की जाएगी कि चीनी निवेश लौटाने के बाद स्टार्टअप को उसके बदले में आर्थिक मदद दी जाए। इसके अलावा कैट सरकार से आग्रह करेगी कि बाकी बचे चीनी ऐप को भी तुरंत प्रतिबंधित किया जाए।