कोलकाता।  केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) मंगलवार को कथित रूप से कोयला चोरी मामले में तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी से पूछताछ कर सकती है। सोमवार को केंद्रीय एजेंसी ने टीएमसी सांसद की भाभी मेनका गंभीर से इस संबंध में तीन घंटे तक पूछताछ की।

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, रुजिरा ने सीबीआई को पत्र लिखकर कहा, "हालांकि, मैं पूछताछ या जांच के कारण से अनभिज्ञ हूं। आप कल सुबह 11 बजे से 3 बजे के बीच अपनी सुविधा के अनुसार मेरे निवास पर आ सकते हैं। आपसे अनुरोध है कि कृपया मुझे अपना कार्यक्रम सूचित कर दें।" आपको बता दें कि रविवार को सीबीआई अधिकारियों की एक टीम समन देने के लिए सांसद के आवास पर गई थी, लेकिन रूजीरा मौजूद नहीं थी। एजेंसी ने उन्हें जांच में शामिल होने के लिए कहा था।

सीबीआई द्वारा रविवार को भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी को कोयला चोरी मामले में पूछताछ के लिए नोटिस थमाए जाने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हमला बोला। उन्होंने कहा कि जब तक उनके अंदर जान है, वह किसी भी तरह की धमकी से डरने वाली नहीं हैं। ममता बनर्जी ने कहा, ''हमें जेल से डराने का प्रयास नहीं करें, हमने बंदूकों का सामना किया है और हम चूहों से लड़ने से नहीं डरते।'' मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि साल 2021 में केवल एक खेल होगा और उस मैच में मैं गोलकीपर होऊंगी और यह देखना चाहती हूं कि कौन जीतता है और कौन हारता है।

पत्नी को नोटिस मिलने के बाद सांसद अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट किया, ''आज दोपहर दो बजे, सीबीआई ने मेरी पत्नी के नाम पर नोटिस दिया है। हमें कानून पर पूरा भरोसा है। हालांकि, यदि उन्हें लगता है कि इस तरह के हथकंडों से हमें डराया जा सकता है तो वे गलत हैं। हम वे नहीं हैं जिसे दबाया जा सके।'' बनर्जी ने अपने ट्वीट के साथ सीबीआई के नोटिस की तस्वीर भी शेयर की।

सीबीआई की टीम ने अभिषेक की पत्नी रुजिरा बनर्जी को पश्चिम बंगाल स्थित ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) से कोयला चोरी के मामले में जांच अधिकारी, सीबीआई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार की ओर से जारी नोटिस थमाया। इस मामले में अनूप मांझी को कथित मास्टरमाइंड बताया जाता है। रविवार को जारी नोटिस में रुजिरा से कहा गया कि वह हरीश मुखर्जी रोड स्थित अपने पते पर मामले से संबंधित कुछ सवालों के जवाब के लिए उपस्थित रहें। सीबीआई की कार्रवाई पर तृणमूल कांग्रेस और भाजपा ने एक-दूसरे पर निशाना साधा।