मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में एक उच्च-स्तरीय बैठक में तबलीगी जमात में शामिल  लोगों को  सभी के हित में क्वारेंटाइन में रखे जाने के संबंध में जानकारी प्राप्त की। श्री चौहान ने निर्देश दिये कि भोपाल के अलावा अन्य जिलों से भी जमात में शामिल हुए लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री प्राप्त की जाए और उसके मुताबिक एहतियाती कदम भी उठाए जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में संक्रमण की स्थिति के मद्देनजर दिल्ली से वापस मध्यप्रदेश पहुँचने वाले लोगों के संबंध में ऐहतियात बरतना जरूरी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैठक में निर्देश दिये कि इस संबंध में जिला स्तर पर भी समीक्षा की जाए। बैठक में जानकारी दी गई  कि तबलीगी जमात में शामिल प्रदेश के 107 नागरिकों की सूची प्राप्त हुई थी। इसमें से 67 नागरिक क्वॉरेंटाइन किए जा चुके हैं। शेष 40 जमातियों के नाम और पते मालूम नहीं होने से   अन्य जिलों में उनके बारे में   पता लगाया जा रहा है। इसके साथ ही, भोपाल और प्रदेश के अन्य जिलों में विदेशों से आए करीब 50 नागरिक भी क्वॉरेंटाइन के लिए भेजे जा रहे हैं।  

बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी सहित गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।