नई दिल्ली । जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधकर मोदी सरकार को लेकर तल्ख तेवर दिखाए, वहीं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लगे हाथ तारीफ भी की।
महबूबा ने वाजपेयी को महान नेता बताकर कहा कि वे चाहते,तब हजार बालाकोट कर सकते थे। उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने ऐसा नहीं किया।वाजयेपी ने ऐसा न करके राजधर्म निभाया, वाजपेयी ने कश्मीर को दिल की नजरों से देखा।ये सरकार गोडसे का कश्मीर बनाना चाहती है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी पाकिस्तान गए, हूर्रियत से बात की।परवेज मुशर्रफ को बुलाया।संसद चली, बात हुई। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की काफी आलोचना हुई। ये भी कहा गया कि एक भी गोली दागे बिना चला आया। शायद उन्हें इसी वजह से चुनाव में हार मिली होगी। मुफ्ती ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी का सीना 56 इंच का नहीं, 67 इंच का है।उन्होंने अनुच्छेद 370 और 35 ए का मसला भी उठाया और ये भरोसा भी व्यक्त किया कि जम्मू कश्मीर को ये विशेषाधिकार लौटाना होगा।